Tag: Kavita

Ahmad Faraz : अहमद फ़राज़ की बेहतरीन शायरी

अहमद फ़राज़ पैदाइश से हिन्दुस्तानी थे, लेकिन विभाजन के बाद वे पाकिस्तान के बेहतरीन उर्दू कवियों मे शुमार हो गये, साथ साथ हिन्दूस्तान के लोगों के दिल में भी| …

मधुशाला – हरिवंशराय बच्चन

मृदु भावों के अंगूरों की आज बना लाया हाला, प्रियतम, अपने ही हाथों से आज पिलाऊँगा प्याला, पहले भोग लगा लूँ तेरा फिर प्रसाद जग पाएगा, सबसे पहले तेरा …