Tag: Classic Hindi-Urdu Poetry

Heart touching Two line Sad Shayari in Hindi

झूठी मोहब्बत.. वफा के वादे.. साथ निभाने की कसमें.., कितना कुछ करते हैं लोग.. सिर्फ वक्त गुजारने के लिए जहर से ज्यादा # खतरनाक होती है मोहब्बत साला एक …

अमर ज्योति नदीम

शिक्षा: एम.ए. (अँग्रेज़ी), एम. ए. (हिंदी), पीएच.डी. (अँग्रेज़ी) आगरा विश्वविद्यालय) 1. पेट भरते हैं दाल-रोटी से। दिन गुज़रते हैं दाल-रोटी से। दाल- रोटी न हो तो जग सूना, जीते-मरते …

अमज़द इस्लाम अमज़द

1. दरिया की हवा तेज़ थी, कश्ती थी पुरानी रोका तो बहुत दिल ने मगर एक न मानी मैं भीगती आँखों से उसे कैसे हटाऊ मुश्किल है बहुत अब्र …

अभिज्ञात

जन्म – १९६२ गाँव कम्हरियां, जिला आजमगढ़, उत्तर प्रदेश, भारत। कविता संग्रह – एक अदहन हमारे अन्दर, भग्न नींड़ के आर पार, आवारा हवाओं के खिलाफ़ चुपचाप, वह हथेली, …

अब्बास रज़ा अलवी

परिचय: फतेहगढ़ उत्तर प्रदेश में जन्मे अब्बास रज़ा अलवी ने फतेहगढ़, अलीगढ़ विश्वविद्यालय व मास्को में शिक्षा प्राप्त की। आजकल आस्ट्रेलिया के नागरिक अब्बास रज़ा अलवी सिडनी में आयात निर्यात …

अब्बास अली “दाना”

1. जर्फसे बढके हो इतना नहीं मांगा जाता प्यास लगती है तो दरिया नहीं मांगा जाता चांद जैसी हो बेटी कीसी मुफलिसकी तो उंचे घरवालों से रिश्ता नहीं मांगा …

अब्दुल हमीद ‘अदम‘

जन्म १९०९ में तलवंडी मूसा खाँ (पाकिस्तान ) || निधन १९६८ उन्होंने बी.ए. तक की पढ़ाई पूरी की और पाकिस्तान सरकार के ऑडिट एण्ड अकाउंट्स विभाग में ऊँचे ओहदे पर रहे।   1. …

अब्दुल मजीम ‘महश्‍र’

1. रूठ जाएँ तो क्या तमाशा हो हम मनाएँ तो क्या तमाशा हो काश वायदा यही जो हम करके भूल जाएँ तो क्या तमाशा हो तन पे पहने लिबास …

अब्दुल अहद ‘साज़’

1. मौत से आगे सोच के आना फिर जी लेना छोटी छोटी बातों में दिलचस्पी लेना जज़्बों के दो घूँट अक़ीदों के दो लुक़मे आगे सोच का सेहरा है …