‘अज़ीज़’ वारसी

  • ‘अज़ीज़’ वारसी

    1. तेरी तलाश में निकले हैं तेरे दीवाने कहाँ सहर हो कहाँ शाम हो ख़ुदा जाने हरम हमीं से हमीं…

    Read More »